पंजाब सरकार की Yaari Enterprises Scheme

Yaari Enterprises Scheme :-

पंजाब सरकार ने राज्य के बेरोजगार युवकों के लिए रोजगार प्रदान करने के लिए यारी उद्यम योजना (Yaari Enterprises Scheme) की शुरूआत की है | यह योजना दो या दो से अधिक युवा उद्यमियों द्वारा चलाये जा रहे छोटे उद्यमों के लिए है | उद्यमों (Enterprises) को 5 लाख रुपये तक के अधिकतम निवेश पर 30% तक की सब्सिडी (subsidy) मिलेगी | अगले पांच वर्षों में हर साल करीब 1 लाख उद्यम (Enterprise) स्थापित किए जाएंगे | पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह बादल ने इस योजना को 2017 के चुनाव से पहले कांग्रेस के Menifesto में घोषित किया था | इस योजना के माध्यम से शहर में रहने वाले गरीब परिवार भी अपना व्यवसाय या उद्यम शुरू कर सकते हैं |

Yaari Enterprises Scheme की मुख्य बातें :-

  • यह योजना राज्य के बेरोजगार लोगों के लिए रोजगार पैदा करेगी |
  • अगले पांच वर्षों में हर साल करीब 1 लाख उद्यम (Enterprise) स्थापित किए जाएंगे |
  • इस योजना के माध्यम से राज्य के लोग नए उद्यम (Enterprise) स्थापित करने में सक्षम होंगे |
  • इस योजना के तहत विनिर्माण (manufacturing), सर्विसिंग (servicing) और बिजनेस से संबंधित छोटे उद्यमों (Enterprises) की काफी मांग रहेगी |
  • सरकार शहरी गरीबों को बैंक से आसान क्रेडिट का उपयोग करने और ऋण पर ब्याज सब्सिडी का लाभ दिलाने के लिए self help groups (SHG) का भी समर्थन करेगी |
  • लाभार्थी सहायता के लिए सीधे ULB या इसके प्रतिनिधियों से संपर्क कर सकते हैं |
  • यह योजना उद्यमों की दर को बढ़ाएगी जिससे स्वचालित रूप से आर्थिक विकास होगा |
  • इस योजना के तहत आम लोगों के साथ शहरी स्थानीय निकायों और सामुदायिक आयोजकों को शामिल किया जाएगा |

Yaari Enterprises Scheme के लिए पात्रता मानदंड :-

  • यदि व्यक्ति चार या अधिक के समूह में अपना उद्यम शुरू करता है, तो परियोजना लागत 10 लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए |
  • Group enterprise में कम से कम 5 सदस्यों के साथ शहरी गरीब परिवारों के कम से कम 70 प्रतिशत सदस्य होने चाहिए |
  • समूह के सभी सदस्यों को बैंक ऋण के लिए आवेदन करने के समय तक 18 वर्ष की आयु प्राप्त कर ली होनी चाहिए |
  • केवल 18 वर्ष और उससे अधिक आयु के व्यक्ति ही इस योजना के तहत बैंक ऋण के लिए आवेदन कर सकते हैं और अपना व्यवसाय शुरू कर सकते हैं |

Leave a Reply