मध्यप्रदेश सरकार की मुख्यमंत्री विदुषी योजना

मुख्यमंत्री विदुषी योजना (Mukhyamantri Vidushi Yojana) :-

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति (SC/ST) के प्रतिभाशाली छात्रों को प्रोत्साहित करने के लिए एक पहल शुरू की है | इस दिशा में उन्होंने एक राज्य स्तरीय नेतृत्व विकास शिविर का उद्घाटन किया | इस शिविर को अनुसूचित जाति (SC) और अनुसूचित जनजाति (ST) समुदायों के 234 छात्रों और 47 खिलाड़ियों के लिए आयोजित किया गया था | इस आयोजित शिविर के दौरान मुख्यमंत्री विदुषी योजना (Mukhyamantri Vidushi Yojana) की घोषणा की गई |

मुख्यमंत्री विदुषी योजना (Mukhyamantri Vidushi Yojana) के उद्घाटन दौरान, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि कोचिंग केन्द्रों को राज्य में स्थापित किया जाएगा जो अनुसूचित जाति (SC) और अनुसूचित जनजाति (ST) से संबंधित प्रतिभाशाली छात्रों को नि: शुल्क ट्यूशन उपलब्ध कराएंगी | इससे उन्हें राष्ट्रीय स्तर की संस्थाओं (National Level Institutions) में प्रवेश के लिए खुद को तैयार करने में मदद मिलेगी |

मुख्यमंत्री विदुषी योजना की विशेषताएं :-

मुख्यमंत्री विदुषी योजना (Mukhyamantri Vidushi Yojana) के तहत कक्षा 6 की 50 छात्राओं का चयन अनुसूचित जाति (SC) और अनुसूचित जनजाति (ST) के सबसे पिछड़े वर्ग से किया जाएगा | इस योजना के तहत इन छात्राओं को उच्च शिक्षा और अन्य सुविधाएं नि: शुल्क प्रदान की जाएँगी |


राज्य स्तरीय नेतृत्व विकास शिविर में भाग लेने वाले मेधावी छात्रों का चयन शैक्षणिक वर्ष 2017-18 में भारत दौरे के लिए किया जाएगा | इसके अलावा सरकार अनुसूचित जाति (SC) और अनुसूचित जनजाति (ST) के छात्रों की बेहतर शिक्षा के लिए छात्रवृत्ति (scholarship), नि: शुल्क पुस्तकें, नि: शुल्क cycle और छात्रावास (hostel) प्रदान करेगा |

अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति वर्ग के छात्र, जो कक्षा 12 वीं की परीक्षा में 75 % स्कोर करेगा उसे लैपटॉप और स्मार्टफोन के साथ अच्छे कॉलेजों में प्रवेश प्राप्त करने का मौका भी मिलेगा |

वन मंत्री डॉ गौरीशंकर शेजवार, और अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति कल्याण मंत्री ज्ञान सिंह ने बताया कि अखिल भारतीय प्रतियोगी परीक्षाओं (all India competitive examinations) के माध्यम से IIT, IIM, National Law College और medical college में अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के छात्रों का चयन होने पर उनकी फीस का वहन राज्य सरकार द्वारा किया जाएगा |

Conclusion :-

समाज के पिछड़े वर्गों की वृद्धि से ही देश का विकास संभव है | इस उद्देश्य की पूर्ती के लिए शिक्षा बुनियादी और महत्वपूर्ण तत्व है | मध्य प्रदेश सरकार पिछड़े वर्गों के विकास पर ध्यान केंद्रित कर रहा है | मध्य प्रदेश की सरकार ने पहले ही पिछड़े वर्ग से संबंधित छात्रों को सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराने पर ध्यान केंद्रित किया हुआ है |

आम तौर पर, पिछड़े वर्ग की बालिकाओं को शिक्षा के लिए ज्यादा सुविधाएं नहीं मिलती है | मुख्यमंत्री विदुषी योजना (Mukhyamantri Vidushi Yojana) राज्य में बालिकाओं के विकास के लिए एक महत्वपूर्ण कदम साबित हो सकता है | इस योजना को जल्द ही शुरू किया जाएगा |

Leave a Reply