मध्य प्रदेश की दीनदयाल कैंटीन योजना – भोजन सब्सिडी योजना

Deendayal subsidized meal Yojana –

दीनदयाल योजना (Deendayal Yojana) मध्य प्रदेश सरकार की एक नई योजना है | अन्य राज्यों की तरह मध्य प्रदेश सरकार ने गरीब लोगों को स्वस्थ भोजन उपलब्ध कराने के लिए दीनदयाल सब्सिडी भोजन योजना (Deendayal subsidized meal Scheme) शुरू की है |

इस योजना के तहत लोग 10 रुपये में भोजन ले सकते हैं | इस भोजन की थाली में कई item को शामिल किया गया है | जो दोपहर के भोजन और नाश्ते के रूप में उपलब्ध होंगे | जिससे गरीब लोग आसानी से इस भोजन की थाली को खरीद सकते हैं जो उनके स्वास्थ्य के लिए उपयोगी होगी |

कम कीमतों में स्वस्थ भोजन की उपलब्धता की वजह से रियायती भोजन योजनाएं (Subsidized Meal Schemes) भारत में बहुत सफल रही है | राजस्थान सरकार ने भी हाल ही में “अन्नपूर्णा रसोई” ‘के रूप में एक भोजन योजना शुरू की है जिसके तहत यह नाश्ता सिर्फ 5 रुपये और दोपहर का भोजन सिर्फ 8 रुपये में प्रदान कर रहा है |

योजना के बारे में –

जब मध्य प्रदेश सरकार ने महसूस किया कि गरीब लोग उचित भोजन न मिल पाने की वजह से कुपोषण से पीड़ित हो रहे हैं तो उन्होंने इस योजना को शुरू करने की योजना बनाई | वे अपने नाश्ता, दोपहर का भोजन और रात के भोजन से अपनी खाने की भूख मिटाते हैं | नतीजतन, उन्हें स्वस्थ भोजन नहीं मिल पाता | सरकार को यह एहसास हुआ जब इस योजना के शुरू होने से गरीब लोग आसानी से स्वस्थ खाना खरीद सकेंगे | जिससे भोजन की गुणवत्ता को बनाए राखी जाए और आम लोगों के लिए यह सस्ती भी हो |

  • भारत में कम कीमत पर गुणवत्तापूर्ण (quality), स्वस्थ और स्वादिष्ट भोजन की उपलब्धता के कारण रियायती भोजन योजनाएं (Subsidized Meal Schemes) एक क्रांतिकारी कदम है |
  • जब गरीब मजदूरी करने वाले लोग जैसे रिक्शा चालक, मजदूर और अन्य कर्मचारियों को स्वस्थ भोजन प्राप्त होगा तो वे समाज को बेहतर सेवा दे सकते हैं |
  • असल में, इस योजना से लोगों की हर वो बुनियादी जरूरतें पूरी होंगी जो वे अपने दैनिक भोजन से अवशोषित कर सकते हैं |
  • मध्य प्रदेश सरकार शायद दीन दयाल कैंटीन सब्सिडी भोजन योजना (Deen Dayal canteen subsidized meal scheme) अगले साल शुरू करेगी जिससे मध्य प्रदेश के लोगों को 2017 में एक नई योजना मिलेगी |

इस योजना की General Planning –

जब मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस योजना की घोषणा की, उस दिन पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती थी जो महान दार्शनिक और RSS विचारक थे इसी वजह से उनके नाम के अनुसार इस योजना का नाम दीन दयाल कैंटीन सब्सिडी भोजन योजना (Deen Dayal canteen subsidized meal scheme) रखा गया | मध्य प्रदेश सरकार ने 25 सितम्बर 2016 को इस योजना की घोषणा की |

तमिलनाडु पहला राज्य है, जिसने गरीब लोगों के लिए रियायती दर पर भोजन योजना (subsidized meal scheme) शुरू की थी | यह योजना को पूरे राज्य में बड़ी सफलता मिली | इस योजना का नाम “Amma unnavagam” था | दिल्ली सरकार ने भी “आम आदमी कैंटीन योजना” शुरू की | उत्तराखंड सरकार ने भी गरीब लोगों के लिए “इंदिरा अम्मा भोजन योजना” का शुभारंभ किया | बाद में उड़ीसा सरकार ने भी “आहार रियायती भोजन योजना” शुरू की | लेकिन जब राजस्थान सरकार ने एक विशेष रियायती दर पर “अन्नपूर्णा रसोई भोजन योजना” का शुभारंभ किया और इस योजना को बड़ी सफलता मिली |तब मध्य प्रदेश सरकार ने इस योजना के लागू करना चाहा |

निष्कर्ष –

मध्य प्रदेश सरकार न केवल गरीब लोगों की बेहतर सेवा के लिए इस योजना को शुरू करना चाहती है, बल्कि वर्ष 2018 की विधानसभा चुनाव में एक बड़ी सफलता भी चाहती है | इस योजना को शुरू करके वे आम लोगों को महत्व देना चाहते हैं |

Leave a Reply