मुख्यमंत्री सहायता कोष क्या है?एमपीऑनलाइन के द्वारा इसमें अपना सहयोग कैसे दें ?

मुख्यमंत्री सहायता कोष/Chief Minister’s Relief Fund/सी.एम.आर.एफ:-

मुख्यमंत्री कार्यालय के अंतर्गत मुख्यमंत्री सहायता कोष स्थापित है। जिसमें विभिन्न माध्यमों से अर्थात शासकीय, अशासकीय व्यक्ति अथवा संस्था या कार्यालय द्वारा दी गई दान स्वरूप राशि मुख्यमंत्री सहायता कोष में जमा की जाती है। इस कोष के माध्यम से माननीय मुख्यमंत्री जी द्वारा अपने विवेक के अनुसार बाढ़, अग्नि दुर्घटना, सूखा या अन्य विपत्तियों से ग्रस्त या औद्योगिक एवं अन्य दुर्घटनाओं के शिकार या उक्त पीड़ित लोगों को राहत पहॅुचाने के लिये आर्थिक सहायता दी जाती है। गंभीर बीमारियों से ग्रस्त एवं साधनहीन ऐसे लोगों को भी जिन्हें तत्काल सहायता देना आवश्यक प्रतीत होता है, इस कोष से सहायता दी जाती है। यह दान राशि नगद, मनीआर्डर, चैक अथवा बैंक ड्राफ्‌ट के माध्यम से भी प्राप्त होती है। यह सहायता प्रभावित व्यक्तियों या उनके परिवार के लोगों को सीधे अथवा संबंधित जिला कलेक्टर के माध्यम से प्रदान की जाती है

इस कोष के प्रशासन के लिये एक न्यासी मण्डल गठित है, जिसमें प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्रीजी अध्यक्ष होकर मान. वित्तमंत्री, मान. राजस्व मंत्री, मान. उद्योग मंत्री, मान. समाज कल्याण मत्री एवं वित्त सचिव सदस्य के रूप में मनोनीत हैं। मान. मुख्यमंत्रीजी के सचिव, सदस्य सचिव के रूप में कार्य करते हैं।
नागरिक सेवाओं के अंतर्गत आपको कई विकल्प दिख रहे हैं उन विकल्पों में से आपको सी.एम.आर.एफ/मुख्यमंत्री सहायता कोष के विकल्प पर क्लिक करना है|

1

क्लिक करने पर आपके सामने नीचे दिखाई गयी स्क्रीन आएगी |यहाँ आपके लिए दो विकल्प है|

1.मुख्यमंत्री सहायता कोष/Chief Minister’s Relief Fund

2.स्मृति चिन्ह/Mementos

2

1.मुख्यमंत्री सहायता कोष/Chief Minister’s Relief Fund:-

मुख्यमंत्री सहायता कोष विकल्प का चयन करने पर आपके सामने नीचे दिखाई गयी स्क्रीन नज़र आएगी|

3

यहाँ आपको निम्नलिखित विकल्प मिलेंगे:-

  • Beneficiaries:- इस विकल्प का चयन करने पर आप उन लोगो की सूँची देख सकते है जो इस सेवा से लाभान्वित हुए हैं|

4

  • Offline Donation:- मुख्यमंत्री सहायता कोष में दान की राशि मनीआर्डर, नगद, चेक अथवा बैंक ड्राफ्‌ट के माध्यम से ”मुख्यमंत्री सहायता कोष” के पक्ष में प्रमुख सचिव/सचिव, मुख्यमंत्री कार्यालय, मंत्रालय, वल्लभ भवन, भोपाल के नाम भेजी जा सकती है। दान राशि सचिव, सामान्य प्रशासन विभाग, मंत्रालय, वल्लभ भवन, भोपाल अथवा संभागीय कमिश्नर एवं संबंधित जिले के कलेक्टर को भेजी जा सकती है।
  • CM Relief Fund(Farmer’s Relief):- इस विकल्प का चयन कर आप किसान राहत के लिए ऑनलाइन दान कर सकते हैं| * द्वारा चिन्हित किये गए क्षेत्रों को भरना अनिवार्य है|

5

  • CM Relief Fund (Nepal Earthquake Tragedy):- इस विकल्प का चयन कर आप नेपाल भूकम्प सहायता कोष के लिए ऑनलाइन दान कर सकते हैं| * द्वारा चिन्हित किये गए क्षेत्रों को भरना अनिवार्य है|

6

  • Online Donation:- इस विकल्प का चयन कर आप ऑनलाइन दान कर सकते हैं| * द्वारा चिन्हित किये गए क्षेत्रों को भरना अनिवार्य है|

7

  • Online Donors List:- इस विकल्प का चयन करने पर आपके सामने नीचे दिखाई गयी स्क्रीन आएगी |यहाँ आपको प्रारंभिक तिथि और अंतिम तिथि का उल्लेख करना होगा जिस तारीख के बीच कि रिपोर्ट कि जानकरी आपको चाहिए | यहाँ आपको उन सभी लोगों कि सूँची मिलेगी जिन्होंने आपके द्वारा उल्लेखित कि गयी तारीख के मध्य में मुख्यमंत्री सहायता कोष,किसान राहत के लिए और नेपाल भूकम्प सहायता के लिए अपना सहयोग दिया है|

8 9

  • Duplicate Receipt:- एमपीऑनलाइन द्वारा ऑनलाइन मुख्यमंत्री सहायता कोष,किसान सहायता और नेपाल भूकम्प सहायता के लिए दान करने पर एक रशीद दी जाती है किसी स्थिति में अगर वह रशीद घुम हो जाये तो उस रशीद की दूसरी प्रति निकालने  के लिए आप इस विकल्प का चयन कर सकते हैं | इस विकल्प के द्वारा मात्र अपने आवेदन नंबर की मदद से आप अपने आवेदन  पत्र कि द्वितीय प्रति निकाल सकते हैं |

10

2.स्मृति चिन्ह/Mementos:-

इस विकल्प का चयन कर आप मुख्यमंत्रीजी के उस मानवीय पहल में अपना सहयोग दे सकते हैं जो मध्यप्रदेश सरकार द्वारा चलायी जा रही है |इसके अंतर्गत 12 साल से कम उम्र के ऐसे बच्चे जो दिल की बीमारी से संघर्ष कर रहे हैं उनका इलाज़ किया जाता है।मुख्यमंत्रीजी को विभिन्न संस्थानों की ओर से स्मृति चिन्ह उपहार स्वरूप भेंट किये गये। फलस्वरूप बन गया है इन स्मृति चिन्हों का एक विशाल संग्रह। सेवा के इस पावन अनुष्ठान में आप अपनी पसंद के अमूल्य स्मृति चिन्ह अपने पास सहेजकर रख सकते हैं। दान स्वरूप आपसे मिली राशि मुख्यमंत्री सहायता कोष में जमा होगी। हदय रोग से पीडित बच्चों को नवजीवन देने में सहायता मिलेगी।

11

12 13

 

 

 

 

loading...

Comments

  1. By Drupad Chaurasia

    Reply

  2. By NITIN TIWARI

    Reply

Leave a Reply