World environment day | 5 जून – विश्व पर्यावरण दिवस

विश्व पर्यावरण दिवस :-

विश्व पर्यावरण दिवस (World environment day) को पर्यावरण दिवस, ECO Day या लघु रूप में WED के रूप में भी जाना जाता है | यह बड़े वार्षिक उत्सवों में से एक है जो हर वर्ष 5 जून को प्रकृति को सुरक्षित रखने के लक्ष्य से लोगों द्वारा पूरे विश्व भर में मनाया जाता है | इस खास दिन को मनाने का मकसद धरती और इसके पर्यावरण की सुरक्षा के लिए लोगों को जागरूक करना है |

वर्ष 2016 में विश्व पर्यावरण दिवस पर्यावरण के सबसे महत्वपूर्ण बिंदु पर ध्यान केंद्रित करके मनाया गया था | विश्व पर्यावरण दिवस 2016 के समारोह का विषय था “fight against the illegal trade in wildlife for life” | जिसका मकसद जंगली जानवरों जैसे हाथी, गेंडे, गोरिल्ला, व्हेल, समुद्री कछुए, orangutans, pangolins, rosewoods, helmeted hornbills,बाघ सहित अन्य प्रजातियों के अवैध व्यापार के खिलाफ लोगों को जागरूक व एकजुट करना |

इस वर्ष के उत्सव का मुख्य उद्देश्य वन्यजीव के अवैध व्यापार को प्रतिबंधित करने के लिए मजबूत कार्रवाई करना था क्योंकि यह इस ग्रह की जैव विविधता को खतरे में डाल रहा है | वर्ष 2016 में इस समारोह के आयोजन की मेजबानी अंगोला देश ने पर्यावरण को सुरक्षित रखने के उद्देश्य से की थी |

विश्व पर्यावरण दिवस का उद्देश्य :-

वर्ष 1974 में इसे मनाने की शुरुआत की गई थी तब से लेकर अब तक हर वर्ष 5 जून को यह समारोह धरती को बचाने के उद्देश्य से दुनिया भर में आयोजित किया जाता है | अपने पर्यावरण की सुरक्षा करने की जिम्मेदारी सिर्फ सरकार या निजी संगठनों की ही नहीं बल्कि पूरे समाज की जिम्मेदारी है | वर्ष 1972 में संयुक्त राष्ट्र में 5 से 16 जून का बीच मानव पर्यावरण पर शुरु हुए सम्मेलन में संयुक्त राष्ट्र महासभा और संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (UNEP) द्वारा कुछ प्रभावी अभियान चलाकर विश्व पर्यावरण दिवस को हर साल मनाया जाने की स्थापना की गई | वर्ष 1973 में पहली बार यह एक विशेष विषय “Only one Earth” के साथ मनाया गया | वर्ष 1974 के बाद से, विश्व पर्यावरण दिवस का उत्सव विश्व के विभिन्न शहरों में आयोजित किया जाता है |

यह संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा शुरू किया गया एक बड़ा वार्षिक उत्सव है जिसमें विश्वभर के विभिन्न देशों के लाखों लोगों को शामिल किया जाता है साथ ही साथ कुछ प्रभावी कार्यों के क्रियान्वयन के लिए राजनीतिक और स्वास्थ्य संगठनों का ध्यान आकर्षित किया जाता है |

विश्व पर्यावरण दिवस क्यों मनाया जाता है :-

विश्व पर्यावरण दिवस के वार्षिक उत्सव के अभियान को कई पर्यावरणीय समस्याएं जैसे अपव्यय और भोजन का नुकसान, वनों की कटाई, ग्लोबल वार्मिंग में वृद्धि आदि को ध्यान में रख कर शुरू किया गया था | दुनिया भर में अभियान को प्रभावशील बनाने के लिए हर वर्ष उत्सव का एक विशेष विषय और नारा तय कर इसे योजनाबद्ध किया जाता है |

इसे सफलतापूर्वक carbon neutrality प्राप्त करने, वन प्रबंधन पर ध्यान केंद्रित करने, ग्रीन हाउस प्रभाव को कम करने, विकृत भूमि पर रोपण द्वारा जैव ईंधन उत्पादन को बढ़ाने, बिजली उत्पादन बढ़ाने के लिए जल विद्युत का उपयोग करने, आम जनता को solar water heaters का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित करने, सौर स्रोतों के माध्यम से ऊर्जा उत्पादन करने, नई जल निकासी व्यवस्था विकसित करने, बाढ़ को रोकने के लिए coral reefs और mangroves restoration को बढ़ावा देने और पर्यावरण संरक्षण के अन्य तरीकों सहित क्षरण को बढ़ावा देने के लिए मनाया जाता है | विश्व पर्यावरण दिवस के कुछ उद्देश्य नीचे उल्लेखित हैं :-

  • यह मुख्य रूप से आम जनता को पर्यावरण के मुद्दों के बारे में जागरूक करने के लिए मनाया जाता है |
  • यह विभिन्न समाज और समुदायों के लोगों को उत्सव में सक्रिय रूप से भाग लेने और साथ ही पर्यावरण सुरक्षा उपायों के विकास के लिए एक सक्रिय एजेंट बनने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए मनाया जाता है |
  • लोगों को यह बताने के लिए की पर्यावरण के मुद्दों के प्रति नकारात्मक परिवर्तनों को रोकने के लिए समुदाय के लोग कितने जरूरी हैं |
  • लोगों को अपने आसपास के परिवेश को सुरक्षित और स्वच्छ रख समृद्ध भविष्य का आनंद लेने के लिए प्रोत्साहित करना |

विश्व पर्यावरण दिवस के विषय :-

World Environment Day (WED) समारोह के लिए हर साल एक विषय का चयन किया जाता है | वर्ष 1973 से 2016 तक के विषय निम्नानुसार हैं :

  • वर्ष 1973 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Only one Earth”
  • वर्ष 1974 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Only one Earth during Expo ’74”
  • वर्ष 1975 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Human Settlements”
  • वर्ष 1976 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Water: Vital Resource for Life”
  • वर्ष 1977 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Ozone Layer Environmental Concern; Lands Loss and Soil Degradation”
  • वर्ष 1978 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Development without Destruction”
  • वर्ष 1979 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Only One Future for Our Children and slogan was “Development without Destruction”
  • वर्ष 1980 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “A New Challenge for the New Decade: Development without Destruction”
  • वर्ष 1981 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Ground Water; Toxic Chemicals in Human Food Chains”
  • वर्ष 1982 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Ten Years after Stockholm (Renewal of Environmental Concerns)”
  • वर्ष 1983 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Managing and Disposing Hazardous Waste: Acid Rain and Energy”
  • वर्ष 1984 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Desertification”
  • वर्ष 1985 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Youth: Population and the Environment”
  • वर्ष 1986 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “A Tree for Peace”
  • वर्ष 1987 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Environment and Shelter: More Than A Roof”
  • वर्ष 1988 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “When People Put the Environment First, Development Will Last”
  • वर्ष 1989 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Global Warming; Global Warning”
  • वर्ष 1990 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Children and the Environment”
  • वर्ष 1991 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Climate Change. Need for Global Partnership”
  • वर्ष 1992 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Only One Earth, Care and Share”
  • वर्ष 1993 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Poverty and the Environment and slogan was “Breaking the Vicious Circle”

 

  • वर्ष 1994 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “One Earth One Family”
  • वर्ष 1995 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “We the Peoples: United for the Global Environment”
  • वर्ष 1996 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Our Earth, Our Habitat, Our Home”
  • वर्ष 1997 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “For Life on Earth”
  • वर्ष 1998 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “For Life on Earth and slogan was “Save Our Seas”
  • वर्ष 1999 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Our Earth – Our Future” and slogan was “Just Save It!”
  • वर्ष 2000 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “The Environment Millennium” and slogan was “Time to Act”
  • वर्ष 2001 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Connect with the World Wide Web of Life”
  • वर्ष 2002 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Give Earth a Chance”
  • वर्ष 2003 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Water” and slogan was “Two Billion People are Dying for It!”
  • वर्ष 2004 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Wanted! Seas and Oceans” and slogan was “Dead or Alive?”
  • वर्ष 2005 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Green Cities” and slogan was “Plan for the Planet!”
  • वर्ष 2006 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Deserts and Desertification” and slogan was “Don’t Desert Drylands!”
  • वर्ष 2007 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Melting Ice – a Hot Topic?”
  • वर्ष 2008 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “CO2, Kick the Habit – Towards a Low Carbon Economy”
  • वर्ष 2009 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Your Planet Needs You – Unite to Combat Climate Change”
  • वर्ष 2010 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Many Species. One Planet. One Future”
  • वर्ष 2011 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Forests: Nature at your Service”
  • वर्ष 2012 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Green Economy: Does it include you?”
  • वर्ष 2013 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Think. Eat. Save.” And slogan was “Reduce Your Foodprint”
  • वर्ष 2014 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “small island developing states” or “SIDS” and “Raise your voice, not the sea level”
  • वर्ष 2015 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “One World, One Environment”
  • वर्ष 2016 में World Environment Day (WED) समारोह का विषय “Zero tolerance for the illegal trade in wildlife” (highlights the fight against the illegal trade in wildlife)”

Leave a Reply