मध्यप्रदेश सरकार की “मुख्यमंत्री कौशल संवर्धन योजना”

मुख्यमंत्री कौशल संवर्धन योजना (Mukhyamantri Kaushal Samvardhan Yojana) :-

मध्यप्रदेश सरकार ने राज्य में मुख्यमंत्री कौशल संवर्धन योजना /Mukhyamantri Kaushal Samvardhan Yojana (MMKSY)  या मुख्यमंत्री कौशल विकास योजना शुरू की है | इस योजना का उद्देश्य राज्य के युवाओं को नि: शुल्क कौशल प्रशिक्षण प्रदान करना है |अधिसूचना के अनुसार, इस योजना के तहत राज्य भर में हर साल 2,50,000 युवाओं को लाभ होगा |

मुख्यमंत्री कौशल संवर्धन योजना /Mukhyamantri Kaushal Samvardhan Yojana (MMKSY) के माध्यम से, सरकार युवाओं के सम्पूर्ण जीवन स्तर में सुधार करेगी और साथ ही युवाओं के लिए बेहतर गुणवत्तापूर्ण जीवन को सुनिश्चित करेगी | मुख्यमंत्री कौशल संवर्धन योजना /Mukhyamantri Kaushal Samvardhan Yojana (MMKSY), मध्य प्रदेश राज्य कौशल विकास मिशन/Madhya Pradesh State Skill Development Mission (MPSSDM) का एक अभिन्न अंग है |इच्छुक और योग्य उम्मीदवार इस योजना के लिए मध्य प्रदेश कौशल विकास मिशन की आधिकारिक वेबसाइट ssdm.mp.gov.in के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं |

राज्य सरकार ने योजना के कार्यान्वयन के लिए अपने बजट में 254.78 करोड़ रुपये की राशि आवंटित की है | इसके अतिरिक्त, MMKSY को प्रभावी ढंग से लागू करने के लिए सरकार ने 274.34 करोड़ रुपये की राशि भी प्रदान की है | इन योजनाओं के माध्यम से युवा अपने कौशल को short-term skill training की मदद से विकसित कर सकते हैं | इस योजना की सफलता से राज्य की प्रगति में नई पीढ़ी के योगदान में वृद्धि होगी |

कौशल संवर्धन योजना का उद्देश्य :-

  • यह योजना युवाओं के लिए राज्य में रोजगार के अवसरों को बढ़ाने में मदद करेगी |
  • इसके अलावा, इस योजना के तहत वर्ष 2017-18 से प्रति वर्ष लगभग 2.5 लाख युवकों (पुरुष और महिला दोनों) को मुफ्त प्रशिक्षण दिए जाएंगे |
  • इस योजना के तहत विभिन्न पाठ्यक्रमों के लिए प्रशिक्षण अवधि 15 दिन से 9 महीनों (लगभग 100 से 1200 घंटों) तक होगी |
  • जिन युवाओं ने अपनी पढ़ाई छोड़ दी है, उन्हें अपने कौशल में सुधार लाने और अपने लिए किसी भी उपयुक्त नौकरी का पता लगाने का अवसर मिलेगा |
  • महिलाओं सहित सभी वर्गों के युवाओं को मुफ्त आवासीय प्रशिक्षण का अवसर मिलेगा |

कौशल संवर्धन योजना के लिए आवश्यक योग्यता :-

उम्मीदवारों को NSQF के प्रत्येक पाठ्यक्रमों में उनके प्रदर्शन के आधार पर उनका चयन किया जाएगा | लेकिन कुछ मापदंड और दस्तावेज नीचे दी गई सूची के अनुसार आवश्यक होंगे :-

  • यह योजना केवल मध्य प्रदेश के युवाओं के लिए है |
  • युवाओं की आयु 15 वर्ष से अधिक होनी चाहिए |
  • भारत सरकार के मानकों (ISI) के अनुसार सभी NSQF पाठ्यक्रमों के लिए न्यूनतम शैक्षिक योग्यता निर्धारित की जाएगी |
  • चयनित उम्मीदवारों को कुछ दस्तावेज जैसे आधार कार्ड, मतदाता कार्ड, जाति प्रमाण पत्र, प्रशिक्षण प्रमाणपत्र प्रस्तुत करना होगा

कौशल संवर्धन योजना के अंतर्गत आने वाले क्षेत्र :-

  • Agriculture
  • Tourism and Hospitality
  • Food Processing
  • Furniture and Fittings
  • Retail
  • Apparel Made apps & Home Furnishing
  • Domestic Workers
  • Plumbing
  • Capital Goods
  • Security
  • Telecom
  • Construction
  • Banking and Financial Services
  • Electronics and Hardware
  • IT and ITES
  • Automotive
  • Green Jobs

कौशल संवर्धन योजना में प्रस्तावित पाठ्यक्रमों की सूची :-

 

One thought on “मध्यप्रदेश सरकार की “मुख्यमंत्री कौशल संवर्धन योजना”

Leave a Reply