दिल्ली सरकार की Free Treatment Scheme

Free Treatment Scheme:-

दिल्ली की कैबिनेट ने राज्य में दुर्घटनाग्रस्त लोगों के लिए नि: शुल्क उपचार योजना (Free Treatment Scheme) के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है | अब राज्य सरकार Road Accident और Acid Attack के पीड़ितों के इलाज की पूरी लागत का वहन करेगी | तदनुसार, ये पीड़ित किसी भी सरकारी या निजी अस्पतालों में नि: शुल्क उपचार का लाभ ले सकेंगे | इसके अलावा, यह योजना सड़कों पर आग संबंधी घटनाओं (fire-related incidents) के शिकार हुए लोगों को भी मदद प्रदान करेगी |

नि: शुल्क उपचार योजना (Free Treatment Scheme) के तहत दुर्घटना के शिकार लोगों को तत्काल वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी ताकि मृत्यु दर को कम किया जा सके | पहले, राज्य सरकार ने Good Samaritan Scheme शुरू की थी और अब इलाज की लागत भी वहन करेगी | Good Samaritan Scheme के तहत दुर्घटनाग्रस्त लोगों का जीवन बचाने के लिए उन्हें दुर्घटना के बाद golden hours में किसी भी अस्पताल में प्रवेश कराया जा सकता है |

Free Treatment Scheme की मुख्य बातें :-

  • इस Treatment Scheme को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने कैबिनेट की बैठक में मंजूरी दे दी गई है और इसे अब राज्यपाल को अनुमोदन के लिए भेज दिया गया है |
  • इस योजना के तहत, सरकार Road Accident, Acid attacks और Fire Incident पीड़ितों के इलाज का पूरा वहन स्वयं करेगी |
  • इसके अलावा, इस योजना में यह प्रावधान है कि यदि दुर्घटनाग्रस्त व्यक्ति दिल्ली का निवासी नहीं है और दुर्घटना दिल्ली में होती है, तब भी राज्य सरकार दुर्घटनाग्रस्त व्यक्ति को किसी सरकारी या निजी अस्पतालों में Free Treatment प्रदान करेगी |
  • इसके अलावा, राज्य सरकार पीड़ितों की मदद कर उन्हें अस्पताल तक लाने वाले लोगों को 2000/- रुपये की राशि प्रदान करेंगे |

Free Treatment Scheme आवश्यक क्यों है :-

    • किसी दुर्घटना या किसी भी गलत घटना की स्थिति में, ज्यादातर लोग पीड़ित को सरकारी अस्पताल ले जाते हैं भले ही निजी अस्पताल पास ही क्यों न हो |



  • इसके परिणामस्वरूप, पीड़ित व्यक्ति को आपातकाल में सही समय पर उपचार नहीं मिल पाता है |
  • तदनुसार ऐसे लोगों के जीवन को बचाने के लिए और उन्हें उपचार प्रदान करने के लिए सरकार को इस योजना को शुरू करने की जरूरत है |

https://www.facebook.com/AamAadmiParty/videos/1345180315581725/

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, दिल्ली की सड़कों पर प्रतिवर्ष लगभग 8000 सड़क दुर्घटनाएं होती हैं, जिससे लगभग 15000 से 20000 लोग प्रभावित होते हैं | इसके अलावा, इन सड़क दुर्घटनाओं में प्रति वर्ष लगभग 1600 लोग मारे जाते हैं | इसलिए सड़क दुर्घटनाओं की वजह से राज्य में होने वाली मृत्यु दर को कम करने के लिए, राज्य सरकार इस योजना को शुरू करने जा रही है |

Leave a Reply

%d bloggers like this: