छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य के किसानो के लिए Paddy Bonus की घोषणा की

Paddy किसानो के लिए Paddy Bonus :-

छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य के सभी धान के किसानों (Paddy Farmers) को दीपावली से पहले बोनस तिहाड़ (Bonus Tihar) के तहत धान का बोनस (Paddy Bonus) प्रदान करने का निर्णय लिया है | बोनस वितरण कार्यक्रम को बोनस तिहाड़ (Bonus Tihar) के एक प्रकार रूप में शुरू किया गया है जो 3 अक्टूबर 2017 से शुरू हुआ है |

अधिसूचना के अनुसार, राज्य सरकार ने जिला कलेक्टरों को 03 अक्टूबर से 13 अक्टूबर तक बोनस तिहाड़ (Bonus Tihar) को आयोजित करने के निर्देश दिए है | पूरे राज्य के 18 धान उत्पादन जिलों में धान का बोनस (paddy bonus) दिया जाएगा | धान की तिहाड़ योजना के तहत कुल 109220 धान के किसानों (paddy farmers) को लाभ मिलेगा और उन्हें बोनस के रूप में 166.69 करोड़ रुपये मिलेंगे |

बोनस के माध्यम से, किसानों के परिवार निश्चित तौर पर अपने आपको आर्थिक रूप से थोड़ा मजबूत महसूस करेंगे | धान का बोनस (Paddy Bonus) राज्य के किसानों को नई दिशा और नई गति प्रदान कर सकता है | बोनस उन किसानों को दिया जाएगा जिन्होंने वर्ष 2016 में खरीफ के मौसम में अपने उत्पाद को न्यूनतम समर्थन मूल्य (minimum support price) पर बेचा हैं |

छत्तीसगढ़ सरकार ने घोषणा की है कि 13 लाख से अधिक धान के किसानों को 300 रुपये प्रति क्विंटल बोनस मिल जाएगा | 2016-17 में खरीदे गए धान के लिए बोनस का कुल बजट 2100 करोड़ रुपये है जो दिवाली से पहले किसानों तक पहुँचाया जायेगा | अधिसूचना के अनुसार, 2017-18 में खरीदे जाने वाले धान के लिए 2018-19 में भी समान बोनस का भुगतान किया जाएगा |

हालांकि, केंद्र सरकार ने घोषणा की है कि किसानों को इस साल धान की न्यूनतम समर्थन मूल्य (minimum support price) पर 80/- रुपये प्रति क्विंटल ज्यादा मिलेगा | इसके अलावा, छत्तीसगढ़ सरकार भी 300/ – रुपये प्रति क्विंटल का एक बोनस प्रदान करेगी |

सरकार ने किसानों को कई सुविधाएं जैसे शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर कृषि ऋण सुविधा, किफायती दरों पर कृषि मशीनरी और बिजली सुविधा, सिंचाई के लिए पर्याप्त नहरों और सोलर पंपों की सुविधा, धान की बिक्री आदि के लिए पारदर्शिता सुविधा प्रदान करके किसानों की समृद्धि सुनिश्चित की है |

Leave a Reply